E-Office

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने लोकसभा सामान्य निर्वाचन–2024 के बाद से राज्य सरकार में कार्यालयों में ई– आफिस प्रणाली लागू किये जाने के सम्बन्ध में तेजी का काम किया है। जिसके सम्बन्ध में शासन स्तर से समय–समय पर दिशा–निर्देश भी जारी किये जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश शासन द्वारा जारी किये गये आदेश का संकलन एवं अन्य महत्वपूर्ण अभिलेखों के लिंक उपलब्ध कराये जा रहे हैं‚ जो आपके कार्यालय कार्य के लिये लाभप्रद होगेंः–

कार्मिक को क्या करना होगाॽ

1- सरकारी ई–मेल आई०डी० बनवाना (Apply for GOV E-mail)

सबसे पहले उत्तर प्रदेश सरकार के कार्यालय के कार्मिक अपने जनपद के जिला सूचना विज्ञान केन्द्र (NIC) के माध्यम से अपनी सरकारी (GOV) ई–मेल आई०डी० बनवायी होगी। जिसके लिये आपको निम्न जानकारी के साथ ही जिला सूचना विज्ञान केन्द्र (NIC) में सम्पर्क करना होगाः–

1- First Name 
2- Last Name
3- Designation
4- Department
5- State
6- Mobile no.
7- Date of Retirement / Completion of Contract (Contractual employees / Consultants) (Format DD-MM-YYYY)
8- Login UID Complete Email address
9- Date of Birth (Format DD-MM-YYYY) (Optional)
10- Employee Code (Optional)

2- डिजिटल सिग्नेचर बनवाना (Apply for DSC)

ई–मेल आई०डी० बनवाने के बाद आपको अपना डिजिटल सिग्नेचर बनवाना होगा। यह कार्य सरकार द्वारा प्रत्येक जनपद के अर्थ एवं संख्याधिकारी को दिया गया है। जिसके लिये कार्यालय को अपने सभी कार्मिकों के डिजिटल सिग्नेचर सम्बन्धी फार्म भरकर अर्थ एवं संख्याधिकारी के कार्यालय में उपलब्ध कराना होगा।

3- E-Office में रजिस्टर करवाना

E-Office में रजिस्टर करवाने के लिये कार्यालय को अपने कार्मिकों का VPN Related फार्म भरकर जिला सूचना विज्ञान केन्द्र (NIC) में उपलब्ध कराना होगा। जिसके लिये आपको निम्नलिखित जानकारी की आवश्यकता होगीः–

1- Requester Name
2- Organization Name / Department
3- Designation
4- Mail-id (@gov.in/@nic.in/@ac.in)
5- Mobile No.
6- Purpose of VPN Service
7- Permission for VPN- -Total User Count:
8- Requested Services – https://districts.upeoffice.gov.in
9- Request Date –


Skip to content